Thursday, 7 December 2017

pravendra bhadana is new chairman of jansath

13:54

Mr Pravendra Bhadana is new chairman of Jansath
www.apnajansath.com



प्रवेंद्र भड़ाना को जानसठ नगर पंचायत चुनावों में मिली बड़ी जीत ! क़स्बा जानसठ के सबसे युवा नगर पंचायत अध्यक्ष बनें ! 1623  वोटों से बने विजयी ! अपना जानसठ द्वारा किया गया पोल रहा १००% सही

पोस्ट सम्बन्धी अधिक जानकारी के लिए यहाँ 

👉  क्लिक करें   

Saturday, 18 November 2017

UpCmShriYogiAdityaNathInMuzaffarnagar

13:12

मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ और प्रदेश अध्‍यक्ष डॉ महेन्द्रनाथ पांडेय जी आज राजकीय इण्टर कॉलेज मुज़फ्फरनगर के मैदान में उपस्थित हैं !



www.apnajansath.com




मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी और प्रदेश अध्‍यक्ष डॉ महेन्द्रनाथ पांडेय जी के ओजस्‍वी भाषण को सुनने के लिए राजकीय इण्टर कॉलेज मुज़फ्फरनगर के मैदान में बड़ी संख्या में समर्थक उपस्थित हैं।

Friday, 17 November 2017

apna jansath haji ashu malik talking about nagar panchayat election for chairman in jansath from samajwadi party

00:02

जानसठ चेयरमैन पद के लिए सपा प्रत्याशी आशु मालिक जी से प्राप्त उनका एक वीडियो संदेश।



 जिसमें उन्होंने अपने विजन के बारे में बताया जिससे जानसठ की बेहतरी हो। अपना जानसठ सभी के लिए खुला मंच है सभी प्रत्याशी अपनी बात इस डिजिटल माध्यम से रख सकते है।
www.apnajansath.com



वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें !


Thursday, 16 November 2017

Tuesday, 14 November 2017

Saturday, 11 November 2017

Pravendra Bhadana candidate for nagar panchayat election from BJP

18:24


Pravendra Bhadana जी से प्राप्त ये वीडियो जिसमें आगामी नगर पंचायत चुनाव में वह अपनी दावेदारी पेश करते हुए। सभी अन्य प्रत्याशी भी अपनी बात को Apna Jansath के साथ साझा कर सकते है।



www.apnajansath.com




वीडियो देखने  के लिए यहाँ क्लिक करें !











खुद में इतिहास समेटे जानसठ की मिट्टी की सोंधी खुशबू आज भी बुलंदी की दास्तां बयां कर रही है।

18:14
खुद में इतिहास समेटे जानसठ की मिट्टी की सोंधी खुशबू आज भी बुलंदी की दास्तां बयां कर रही है। महाभारत कालीन कस्बे में जहां अशोक की लाट हिंदुस्तान के शिखर छू रहे मस्तक की निशानी है, वहीं इमारतें भी इतिहास की पुरसुकून दास्तां बयां कर रही हैं। हालांकि लाट के प्राचीन होने के पुख्ता सबूत नहीं मिलते, लेकिन बुजुर्ग इसके पुरातन होने की गवाही दे रहे हैं। वहीं सात दरवाजे, अठपहलू कुआं और सात मंजिला रानी का महल भी काफी चर्चित हैं।
इतिहास क्रूर हो तो आंखों से खुद ब खुद आंसू बह निकलते हैं और अगर गौरवमयी हो तो गर्वीला एहसास भी स्वत: ही सीना फुला देता है। ऐसा ही इतिहास समेटे हैं जानसठ कस्बा, जिसके नाम एक नहीं सैकड़ों उपलब्धियां दर्ज हैं। कस्बे में बसायच मार्ग पर श्री ज्ञानेश्वर सिद्धपीठ महादेव मंदिर प्राचीन काल का निर्मित माना जाता है। बताते हैं कि कौरव-पांडव युद्ध टालने के लिए भगवान श्रीकृष्ण ने दोनों पक्षों को यहीं बुलाकर वट वृक्ष के नीचे सुलह-समझौता कराना चाहा था। बताया जाता है कि क्रोधित होकर श्रीकृष्ण ने कहा था कि कौरवों का ज्ञानभ्रष्ट हो गया है। तभी से कस्बे का नाम ज्ञानभ्रष्ट पड़ा जो अब जानसठ हो गया है। मंदिर के ठीक सामने अशोक की एक लाट भी है। बुजुर्ग बताते हैं कि खुद अशोक ने यह लाट बनवाई थी। खुदाई के दौरान यह लाट निकली थी। माना जाता है कि यहां कभी टीला था, जिसे माता के रूप में पूजा जाता था। यहां दशहरे का मेला भी लगता है। जब इस टीले की खुदाई कराई गई तो अशोक की लाट निकली।



www.apnajansath.com



सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम :

किसी समय कस्बे के चारों ओर दीवार बनी थी। इसमें सात दरवाजे थे। इन्हें आज भी किल्ली दरवाजे के नाम से जाना जाता है। वर्तमान में तीन दरवाजे मौजूद हैं, अगर कोई दुश्मन कस्बे में घुसता तो वह चारों तरफ से घिर जाता था। बताया जाता है कि कस्बे में अष्ठभुज कुंआ भी था, जिसे अठपहलू कुंए के नाम से जाना जाता था। इसका निर्माण अशोक के शासनकाल का माना जाता है।
रानी का महल
सेवानिवृत्त शिक्षक जयप्रकाश कांबोज का कहना है कि बुधबाजार में जो विशाल दीवार जर्जर हालत में खड़ी है वह राजा बाहू के महल की है। बताते हैं कि यह महल सात मंजिला था, जोकि आधा जमीन नीचे और आधा ऊपर बना हुआ था। इस महल की रानी सुबह-दोपहर-शाम महल की छत से हस्तिनापुर की गंगा दर्शन करने के बाद ही भोजन ग्रहण करती थीं।

About Us

It is our goal to revive the golden legacy of Jansath and to connect the migratory people of Jansath with the digital medium through the page "ApnaJansath".

Copyright

Copyrighted.com Registered & Protected

Recent

recentposts

Like Our Official Facebook Page